जानें कैसे चेक करें अपने शरीर की बनावट: गलत उठने-बैठने के तरीके से बिगड़ता है बॉडी का पोस्चर

अगर आपके साथ कोई चीज अंत तक रहेगी तो वह है- आपका शरीर। पर हम इसी शरीर के साथ कितना खिलवाड़ करते हैं इसका अंदाजा बॉडी के पोस्चर को देख कर भी समझा जा सकता है।

जानें कैसे चेक करें अपने शरीर की बनावट: गलत उठने-बैठने के तरीके से बिगड़ता है बॉडी का पोस्चर
Google

आज के समय में बॉडी पोस्चर खराब होने के बहुत से कारण हैं, मसलन पूरे समय कुर्सी पर बैठ कर काम करना, गलत तरह से चलना, बाइक या साइकिलिंग का गलत तरीका। इसके अलावा भी कई कारण हैं, लेकिन अब आप यह किस तरह जाने कि आपका बॉडी पोस्चर सही है या नहीं।

रक्त संचार पर पड़ता है असर

जितनी तेजी से समय और हमारे आस-पास कि दुनिया बदल रही है, उसे देखकर आने वाला कल मानव शरीर में अधिक परेशानियां पैदा कर सकता है और शायद कर ही रहा है। अगर आप अपने आसपास भी ध्यान से देखेंगे तो आपको ना के बराबर सही बॉडी पोस्चर के लोग दिखाई देंगे। क्या आप जानते हैं कि गलत बॉडी पोस्चर की वजह से ना केवल आप अजीब दिखते हैं बल्कि इससे आपके रक्त संचार पर भी असर पड़ता है।

बॉडी पोस्चर ख़राब होने के सिम्पटम्स 

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो बॉडी पोस्चर सही ना होने पर अत्यधिक थकान, लोअर बैक पेन और शरीर में अन्य तरह की परेशानियां उत्पन्न होने लगती हैं। ऐसे में समय-समय पर अपनी बॉडी पोस्चर की जांच करना सबसे ज्यादा सही रहता है।

Also Read: Non-Vegetarian खाने से करे परहेज, शुरु करें Vegetarian खाना, सेहत के लिए फायदेमंद

यह हो सकते हैं पोस्चर खराब होने के कारण

हालांकि, कमर और गर्दन में दर्द के अन्य भी कई कारण हो सकते हैं, जैसे बढ़ती उम्र, तकिए या बेकार गद्दे का इस्तेमाल करना। अब अगर आपको ऐसा लग रहा है कि बॉडी पोस्चर रातों रात खराब होता है, तो बता दें कि आप गलत हैं। दरअसल, यह तभी होता है जब आप लंबे समय से कुछ गलतियां कर रहे हों। अगर आपको भी कमर दर्द या गर्दन में अकड़न की शिकायत है तो समझ जाइए कि यह खराब बॉडी पोस्चर की वजह से है।

दीवार बताएगी बॉडी पोस्चर सही है या नहीं

आपका बॉडी का पोस्चर कितना सही है? यह आप दीवार के जरिए देख सकते हैं। इसके लिए आपको सबसे पहले एक दीवार की ओर पीठ दिखाकर खड़ा होना होगा। इस दौरान आपकी एड़ियां दीवार से 6 इंच की दूरी पर होंगी। अगर आपका पोस्चर सही है तो गर्दन और पीठ दीवार से दो इंच दूर रहेंगी। इसके अलावा आपका सिर, हिप्स और कंधे दीवार से लगे हुए होंगे। अब अगर आपकी स्थिति ऐसी है तो ठीक, वरना आपको अपनी दिनचर्या में बदलाव करना होगा।

कुर्सी पर बैठने वाले हो जाए सावधान

अगर आपका भी पूरा दिन कुर्सी पर काम करके बीतता है,तो कुर्सी पर सही तरह से बैठने की पोजीशन आपको पता होना जरुरी है। ऐसे में हम जानते ही नहीं कि कुर्सी पर बैठने की सही पोजिशन क्या है? लेकिन अगर आपको अक्सर कमर दर्द होती है और आप इसके लिए किसी बाम का इस्तेमाल करते हैं, तो समझ ले कि बॉडी पोस्चर में कुछ गड़बड़ है। कुर्सी पर बैठकर थोड़ा बहुत स्लाउच करना ठीक है, लेकिन अगर आप सीधे बैठते हैं और आपको दर्द का एहसास होता है। यानी आप अपनी मांसपेशियों और बॉडी टिशूज के लिए परेशानी पैदा कर रहे हैं।

गलत उठने-बैठने के तरीके से बिगड़ता है बॉडी का पोस्चर

आपने अक्सर ऐसे लोगों को देखा होगा जो अपने हिप्स को बाहर निकाल कर चलते हैं। यह दिखने में जितना अजीब होता है, उससे कहीं ज्यादा सेहत के लिए नुकसानदायक है। हेल्थ एक्सपर्ट इस अवस्था को हाइपर लॉर्डोसिस कहते हैं। इस अवस्था में एक व्यक्ति इस तरह चलता है जैसे उसकी कमर में दर्द हो। अगर आपको यह समस्या है और बहुत से लोग इस चीज को लेकर आपको टोक चुके हैं, तो अब ध्यान देने का वक्त आ गया है।

आप सबसे पहले अपनी इस अवस्था को खुद से जांच लें कि सच में यह दिक्कत है भी या नहीं? इसके लिए आप शीशे के सामने जाकर खड़े हो जाएं। अब एक साइड मुड़ें, शीशे के अंदर देखें कि क्या आपके कूल्हे सच में बाहर की तरफ है, या नहीं। आप चाहें तो इसके लिए अपने परिवार के लोगों की मदद ले सकते हैं। आप बॉडी पोस्चर को सही करने के लिए एक्सरसाइज और योग का सहारा भी ले सकते हैं।